कांग्रेस हिंदुओं को गाली देती है, मुसलमानों से पूछकर सरकार बनती है: संबित पात्रा

कांग्रेस हिंदुओं को गाली देती है, मुसलमानों से पूछकर सरकार बनती है: संबित पात्रा

भाजपा ने नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर कांग्रेस पर जमकर वार किया है। पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस मुसलमानों से पूछकर महाराष्ट्र में सरकार बनाती है और कांग्रेस हिंदुओं को गाली देती है। उन्होंने ये भी कहा कि विपक्ष सीएए-एनसीआर पर देश में भ्रम का माहौल बना रखा है। इसमें खासतौर पर कांग्रेस पार्टी का मुख्य हाथ है। इस विरोध की आड़ में उन्होंने हिन्दुओं को गाली देने का भी काम किया है।

पात्रा ने कहा कि दो दिन पहले अशोक चव्हाण ने एक सभा में कहा कि हमने मुस्लिम भाईयों के कहने पर महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। मुस्लिमों का कहना था कि भाजपा हमारी सबसे बड़ी दुश्मन है, इसलिए हमने शिवसेना के साथ सरकार बनाई थी। इसका एक ही निचोड़ है कि कांग्रेस मुसलमानों से पूछकर ही सरकार बनाती है, किसी और धर्म के लोगों को ध्यान में रखकर नहीं बनती है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी सिर्फ मुसलमानों का वोट पाने के लिए तुष्टिकरण की राजनीति करती है, लेकिन मुसलमानों का कभी कोई भला नहीं करती है। अब से कांग्रेस को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस नहीं बल्कि मुस्लिम लीग कांग्रेस कहती है कि कोई गलत नहीं होगा।

अकबरुद्दीन औवेसी को बनाया निशाना

कांग्रेस हिंदुओं को गाली देती है, मुसलमानों से पूछकर सरकार बनती है: संबित पात्रा
कांग्रेस हिंदुओं को गाली देती है, मुसलमानों से पूछकर सरकार बनती है: संबित पात्रा

संबित पात्रा ने कहा कि कल अकबरुद्दीन औवेसी ने कहा कि मुसलमानों ने 800 साल तक इस मुल्क में हुक्मरानी और जांबाजी की है। मेरे आबा और जात ने इस मुल्क को कुतुबमीनार, चार मिनार, जामा मस्जिद दिया है। लाल किला भी मेरे आबा और दादा ने बनाया, तेरा बाप ने क्या बनाया है? अंत में मैं पूछना चाहता हूँ कि ये सवाल किसका था?

पात्रा ने कहा कि हमारे दादा-परदादा ने इस देश को सहिष्णु, विराट, क्षमतावान, गरिमावान बनाया और आप लोग ऐसी भाषा का उपयोग करते हैं, आपको ये बात बोलने से पहले सोच लेनी चाहिए कि आपको ये बोलने की शर्म नहीं आयी।

कांग्रेस हिंदुओं का हमेशा अपमान करती है : पात्रा

संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से हिंदुओं का अपमान करती नज़र आई है। उन्होंने कांग्रेस के कई नेताओं के बयान का उल्लेख भी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *