हर दिन एक लाख लोगों की जांच के आदेश

कोरोना को लेकर टीम-11 के साथ हाईलेवल बैठक

लखनऊ, 1 अगस्त, दस्तक (ब्यूरो) : रामनगरी अयोध्या में पांच अगस्त को श्रीराम के भव्य मंदिर के भूमि पूजन तथा शिलान्यास की तैयारी के बीच में भी सीएम योगी आदित्यनाथ वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण पर भी नियंत्रण की जुगत में लगे हैं। आज यानी शनिवार को उन्होंने अपने सरकारी आवास पर कोरोना वायरस पर टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक में सूबे में हर दिन एक लाख लोगों की कोरोना जांच का निर्देश दिया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अब प्रदेश में कोविड-19 की प्रतिदिन एक लाख से अधिक जांच कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा जांच आरटीपीसीआर ट्रूनैट मशीन तथा रैपिड एंटीजन विधि से हो। एंटीजन टेस्ट की संख्या को बढ़ाए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि रैपिड एन्टीजन टेस्ट किट की सुचारु उपलब्धता प्रत्येक जनपद में रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मरीजों को सुविधाएं सुलभ कराने के लिए पूरी संवेदनशीलता बरतते हुए कार्य किया जाए। जिससे प्रत्येक जरूरतमंद को बेड, वेंटिलेटर, आक्सीजन आदि उपलब्ध हो सके। इसके साथ ही घर पर आइसोलेट मरीजों से निरन्तर संवाद बनाकर उनकी स्थिति पर नजर रखी जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चिकित्सा कॢमयों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए पर्याप्त संख्या में पीपीई किट, मास्क व ग्लव्स के साथ सैनिटाइजर आदि की निरन्तर उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हर बड़े अस्पताल में अतिरिक्त वेंटिलेटर का प्रबंध करने का निर्देश देते हुए कहा कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए अब अति सक्रिय होकर कार्य करने की जरूरत है। कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर कार्य करने पर जोर देते हुए कहा कि इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर के माध्यम से बेहतर समन्वय बनाकर मरीजों को सभी चिकित्सा सुविधाएं सुलभ कराई जाएं।

मुख्यमंत्री सरकारी आवास पर आज भी बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सा संसाधनों की पर्याप्त संख्या में व्यवस्था बना कर रखें। हर जगह आवश्यकतानुसार अतिरिक्त वेंटिलेटर का प्रबंध किया जाए। पोर्टेबल वेंटिलेटर की भी व्यवस्था हो। उन्होंने बीआरडी मेडिकल कॉलेज, गोरखपुर तथा झांसी मेडिकल कॉलेज में तत्काल अतिरिक्त वेंटिलेटर की व्यवस्था करने का निर्देश भी दिया। उन्होंने गोरखपुर के बाल रोग चिकित्सा संस्थान को 15 अगस्त तक प्रत्येक दशा में पूर्ण कराने के निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में अब तो आवश्यकतानुसार अधिक टीमें लगाकर राउण्ड द क्लॉक कार्य किया जाए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बायो-मेडिकल वेस्ट को निर्धारित मानकों के अनुरूप निस्तारित किया जाए।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि सभी त्योहारों को शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पूरी सावधानी बरती जाए। प्रदेश में सभी जगह गो आश्रय स्थलों से जनप्रतिनिधियों सहित अन्य समाजसेवियों को भी जोड़ा जाए। इसके साथ बाढ़ ग्रस्त इलाकों में प्रभावित जनता के बीच राहत कार्य त्वरित गति से करके सूखे राशन के राहत पैकेट वितरित किए जाएं। उन्होंने इस दौरान सेवायोजन पोर्टल को प्रभावी ढंग से कार्यशील रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि प्रदेश में खाद्यान्न वितरण की प्रभावी व्यवस्था निरन्तर क्रियाशील रखी जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि खाद्यान्न वितरण का कार्य पूरी पारदर्शीता के साथ सम्पन्न हो। राहत कार्य में जनप्रतिनिधियों की सहभागिता एवं सहयोग लिया जाए। उन्होंने कहा कि बाढ़ राहत के सम्बन्ध में किए जा रहे प्रयासों की मीडिया को ब्रीफिंग के माध्यम से नियमित रूप से जानकारी दी जाए। उन्होंने राज्य मुख्यालय के साथ प्रभावित जनपदों में भी मीडिया ब्रीफिंग किए जाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि सभी त्योहारों को शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पूरी सावधानी बरती जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रहे। पुलिस हर जगह निरन्तर पेट्रोलिंग करे। सोशल डिस्टेंसिंग के पालन पर विशेष ध्यान दिया जाए। सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ एकत्र न होने पाए। रक्षाबंधन पर राज्य सड़क परिवहन निगम सभी रूटों पर बस सेवा संचालित करे। सभी त्योहारों को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पूरी सावधानी बरती जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद स्तर पर स्थापित जिला सेवायोजन कार्यालयों को सक्रिय किया जाए। कार्यालय द्वारा रोजगार की उपलब्धता तथा जिन्हें रोजगार दिलाया गया, उनकी संख्या सेवायोजन पोर्टल पर प्रतिदिन अपडेट की जाए। उन्होंने सेवायोजन पोर्टल को प्रभावी ढंग से कार्यशील रखने के निर्देश भी दिए।

The post हर दिन एक लाख लोगों की जांच के आदेश appeared first on Dastak Times.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *